Delhi : No Names Of Buyers On Property Papers Worth Crores – विधायक अमानतुल्लाह गिरफ्तारी मामला : करोड़ों की प्रॉपर्टी के कागजात पर खरीददारों के नाम ही नहीं

ख़बर सुनें

आप विधायक अमानतुल्लाह खान गिरफ्तारी मामले में रोज नए खुलासे सामने आ रहे हैं। विधायक के व्यवसायी साझेदार कौसर इमाम उर्फ लड्डन के पास से करोड़ों रुपये की प्रॉपर्टी के कागजात मिले हैं। करीब दस से ज्यादा प्रॉपर्टी के कागजात बताए जा रहे हैं। सभी प्रॉपर्टी के जीपीए कागजात बने हुए हैं। खास बात है कि इन कागजातों में खरीददारों के नाम नहीं है।

दूसरी तरफ दिल्ली सरकार की भ्रष्टाचार निरोधक शाखा(एसीबी) ने रविवार को विधायक अमानतुल्लाह को कालकाजी थाने ले गई। यहां पर उनके गिरफ्तार व्यवसायिक साझेदार आमिद अली से आमना-सामना कराया। एसीबी ने कालकाजी थाने में गुपचुप तरीके से आमना-सामने कराया था। 

एसीबी प्रमुख मधुर वर्मा ने बताया कि लड्डन के पास से करोड़ों रुपये की प्रॉपर्टी के कागजात मिले हैं। ये प्रॉपर्टी जामिया नगर, बाटला हाउस व ओखला में है। इस प्रॉपर्टी के कागजात पर बेचने वालों के नाम तो है, मगर खरीददार के नाम नहीं है। एसीबी प्रमुख का कहना है कि इस बात की जाच की जा रही है कि ये ये प्रॉपर्टी किस की है और किसने खरीदी थी। इन प्रॉपर्टी पर खरीददारों के नाम क्यों नहीं है।

इसके अलावा एसीबी की छापेमारी के दौरान हामिद अली के घर से नैनीताल में स्थित 34 फ्लैट्स के बेचने के कागजात मिले हैं। ये फ्लैट्स एक प्रसिद्ध प्रोजेक्ट के तहत नैनीताल में बनाए गए थे। एसीबी इस बात की जांच कर रही है कि ये फ्लैट्स किसने बनवाए थे और किसने लोगों को बेचे हैं।

मधुव वर्मा ने बताया कि विधायक के साझेदारों की तेलंगाना में प्रॉपर्टी होने का पता लगा है। इसके अलावा लड्डन की डायरी से दुबई पैसे भेजने के सबूत भी मिले हैं। एसीबी इस डायरी की बरीकी से जांच कर रही है। एसीबी लड्डन की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है, ताकि डायरी के राज खुल सकें। इसके अलावा एसीबी ने रविवार को कालकाजी थाने में विधायक अमानुल्लाह व हामिद अली का आमना-सामना कराया।

नो से करीब तीन घंटे आमने-सामने बैठाकर पूछताछ की गई। पूछताछ में दोनों ने कई खुलासे किए हैं। एसीबी प्रमुख ने जांच का विषय होने की बात कहकर खुलासों के बारे में बताने से इंकार दिया। हालांकि दोनों से पूछताछ में कई बातों में विरोधाभास सामने आया है। 

विस्तार

आप विधायक अमानतुल्लाह खान गिरफ्तारी मामले में रोज नए खुलासे सामने आ रहे हैं। विधायक के व्यवसायी साझेदार कौसर इमाम उर्फ लड्डन के पास से करोड़ों रुपये की प्रॉपर्टी के कागजात मिले हैं। करीब दस से ज्यादा प्रॉपर्टी के कागजात बताए जा रहे हैं। सभी प्रॉपर्टी के जीपीए कागजात बने हुए हैं। खास बात है कि इन कागजातों में खरीददारों के नाम नहीं है।

दूसरी तरफ दिल्ली सरकार की भ्रष्टाचार निरोधक शाखा(एसीबी) ने रविवार को विधायक अमानतुल्लाह को कालकाजी थाने ले गई। यहां पर उनके गिरफ्तार व्यवसायिक साझेदार आमिद अली से आमना-सामना कराया। एसीबी ने कालकाजी थाने में गुपचुप तरीके से आमना-सामने कराया था। 

एसीबी प्रमुख मधुर वर्मा ने बताया कि लड्डन के पास से करोड़ों रुपये की प्रॉपर्टी के कागजात मिले हैं। ये प्रॉपर्टी जामिया नगर, बाटला हाउस व ओखला में है। इस प्रॉपर्टी के कागजात पर बेचने वालों के नाम तो है, मगर खरीददार के नाम नहीं है। एसीबी प्रमुख का कहना है कि इस बात की जाच की जा रही है कि ये ये प्रॉपर्टी किस की है और किसने खरीदी थी। इन प्रॉपर्टी पर खरीददारों के नाम क्यों नहीं है।

इसके अलावा एसीबी की छापेमारी के दौरान हामिद अली के घर से नैनीताल में स्थित 34 फ्लैट्स के बेचने के कागजात मिले हैं। ये फ्लैट्स एक प्रसिद्ध प्रोजेक्ट के तहत नैनीताल में बनाए गए थे। एसीबी इस बात की जांच कर रही है कि ये फ्लैट्स किसने बनवाए थे और किसने लोगों को बेचे हैं।

मधुव वर्मा ने बताया कि विधायक के साझेदारों की तेलंगाना में प्रॉपर्टी होने का पता लगा है। इसके अलावा लड्डन की डायरी से दुबई पैसे भेजने के सबूत भी मिले हैं। एसीबी इस डायरी की बरीकी से जांच कर रही है। एसीबी लड्डन की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है, ताकि डायरी के राज खुल सकें। इसके अलावा एसीबी ने रविवार को कालकाजी थाने में विधायक अमानुल्लाह व हामिद अली का आमना-सामना कराया।

नो से करीब तीन घंटे आमने-सामने बैठाकर पूछताछ की गई। पूछताछ में दोनों ने कई खुलासे किए हैं। एसीबी प्रमुख ने जांच का विषय होने की बात कहकर खुलासों के बारे में बताने से इंकार दिया। हालांकि दोनों से पूछताछ में कई बातों में विरोधाभास सामने आया है। 

Leave a Comment