Digvijaya Singh Lifestyle Congress Leader Fitness Secret And Routine How To Stay Healthy At Age Of 75 – दिग्विजय सिंह: 75 की उम्र में रोजाना 24 किलोमीटर पैदल यात्रा और फिर जमीन पर सोना, जानें कैसी है लाइफस्टाइल

Digvijaya Singh Lifestyle: हम आपको अपनी अलग-अलग खबरों के जरिए कई दिग्गज सेलिब्रिटी और नेताओं की लाइफस्टाइल के बारे में बताते रहते हैं। इसी कड़ी में आज हम जानेंगे कांग्रेस के दिग्गज नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के बारे में। कांग्रेस के दिग्गज नेताओं में दिग्विजय सिंह काफी शुमार राजनेता है। आज वे एक बड़ा मुकाम हासिल कर चुके हैं, लेकिन इसके लिए उन्होंने कठिन परिश्रम और काफी मेहनत की है। वहीं, मध्य प्रदेश ही नहीं पूरे देश में दिग्विजय सिंह काफी चर्चित भी हैं। तो चलिए बिना देर किए इनकी लाइफस्टाइल के बारे में विस्तार से जानने की कोशिश करते हैं। आप अगली स्लाइड्स में दिग्विजय सिंह के बारे में काफी कुछ जान सकते हैं…

जन्म से लेकर शिक्षा तक

  • दिग्विजय सिंह का जन्म मध्य प्रदेश के इंदौर में 28 फरवरी 1947 को हुआ। बात उनकी शिक्षा की करें, तो उन्होंने डेली कॉलेज से मैकेनिकल इंजीनियरिंग से स्नातक की। इसके बाद उन्होंने इंदौर स्थित श्री गोविंददास सेकरसरिया प्रोद्योगिकी एवं विज्ञान संस्थान में दाखिला लिया। इसके बाद वे आगे बढ़ते चले गए।

शादी

  • बात अगर दिग्विजय सिंह के वैवाहिक जीवन की करें, तो उन्होंने पहली शादी आशा दिग्विजय सिंह से हुई। इस शादी से उनका एक बेटा और दो बेटियां हैं। इसके बाद साल 2013 में आशा का कैंसर की बीमारी के कारण निधन हो गया। फिर दिग्विजय सिंह ने राज्यसभा ने टीवी की एंकर अमृता राय से शादी रचा ली। हालांकि, इस शादी के बाद उन्होंने आलोचनाओं का सामना करना पड़ा।

नगर पालिका परिषद के अध्यक्ष से मुख्यमंत्री पद तक का सफर

  • बात दिग्विजय सिंह के राजनीतिक करियर की करें, तो उन्होंने राघोगढ़ नगर पालिका परिषद के अध्यक्ष के रूप में अपने करियर की शुरूआत की। इसके बाद साल 1970 में वे कांग्रेस के साथ जुड़े। फिर साल 1977 में वे राघोगढ़ से विधायक चुने गए ओर कैबिनेट मंत्री बनें।
  • यही नहीं, राजगढ़ निर्वाचन क्षेत्र से वे 1984 में सांसद चुने गए, और इसके बाद वे मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष बने। हालांकि, 1989 में वे इस क्षेत्र से हार गए। इसके बाद 1993 में दिग्विजय सिंह विधानसभा के लिए निवार्चित हुए और जीतकर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री बने।

Leave a Comment