Farmer Dies In Nilgai Attack One Condition Critical – प्रयागराज : नील गाय के हमले में किसान की मौत, एक की हालत नाजुक

ख़बर सुनें

सोमवार की दोपहर खेत में सिंचाई करने गए किसान की नील गाय के हमले में जान चली गई। वहीं एक युवक भी हमले में घायल हो गया। जिसकी हालत गंभीर बताई जा रही है। घटना से ग्रामीणों में दहशत है। नवाबगंज थाना क्षेत्र के खरगापुर गांव निवासी किसान राम सेवक यादव (56) वर्ष पुत्र रामधन सोमवार की दोपहर करीब तीन बजे गांव स्थित खेत में धान की सिंचाई करने गए थे। वहीं बगीचे में रही नीलगाय ने अचानक पीछे से हमला बोल दिया। जब तक ग्रामीण बचाने के लिए पहुंचते तब तक नील गाय ने अधेड़ को गंभीर रूप से घायल कर दिया।

ग्रामीण घायल को लेकर अस्पताल जा रहे थे कि रास्ते में ही दम तोड़ दिया। वहीं गांव के ही एक अन्य युवक मनोज यादव (20) पुत्र अमृत लाल पर भी नील गाय ने हमला किया। हमले में गंभीर रूप से घायल मनोज को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। ग्रामीणों ने बताया कि नील गाय की चपेट में आने वाले सभी लोग धान की सिंचाई करने गये थे। हमले में मृत अविवाहित राम सेवक चार भाइयों में तीसरे नंबर का था और वह भतीजे मुकेश यादव भतीजी प्राची यादव को गोद ले रखा है जिनका रो रोकर बुरा हाल है।

बताया जाता है कि खेत के बगल स्थित एक छोटी सी बाग में काफी झाड़ियां उगी हैं, जहां नील गाय ने बच्चा जना है, जिसके चलते आसपास आने जाने वालों पर नीलगाय हमलावर हो गया है। मौके पर पहुंचे आनापुर चौकी इंचार्ज विनय शुक्ल ने बताया कि नीलगाय पकड़वाने के लिए वन विभाग के रेंजर को सूचना दे दी गई है। मगर देर शाम तक मौके पर पुलिस के सिवा कोई वन विभाग का कर्मचारी नहीं पहुंचा था।

विस्तार

सोमवार की दोपहर खेत में सिंचाई करने गए किसान की नील गाय के हमले में जान चली गई। वहीं एक युवक भी हमले में घायल हो गया। जिसकी हालत गंभीर बताई जा रही है। घटना से ग्रामीणों में दहशत है। नवाबगंज थाना क्षेत्र के खरगापुर गांव निवासी किसान राम सेवक यादव (56) वर्ष पुत्र रामधन सोमवार की दोपहर करीब तीन बजे गांव स्थित खेत में धान की सिंचाई करने गए थे। वहीं बगीचे में रही नीलगाय ने अचानक पीछे से हमला बोल दिया। जब तक ग्रामीण बचाने के लिए पहुंचते तब तक नील गाय ने अधेड़ को गंभीर रूप से घायल कर दिया।

ग्रामीण घायल को लेकर अस्पताल जा रहे थे कि रास्ते में ही दम तोड़ दिया। वहीं गांव के ही एक अन्य युवक मनोज यादव (20) पुत्र अमृत लाल पर भी नील गाय ने हमला किया। हमले में गंभीर रूप से घायल मनोज को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। ग्रामीणों ने बताया कि नील गाय की चपेट में आने वाले सभी लोग धान की सिंचाई करने गये थे। हमले में मृत अविवाहित राम सेवक चार भाइयों में तीसरे नंबर का था और वह भतीजे मुकेश यादव भतीजी प्राची यादव को गोद ले रखा है जिनका रो रोकर बुरा हाल है।

बताया जाता है कि खेत के बगल स्थित एक छोटी सी बाग में काफी झाड़ियां उगी हैं, जहां नील गाय ने बच्चा जना है, जिसके चलते आसपास आने जाने वालों पर नीलगाय हमलावर हो गया है। मौके पर पहुंचे आनापुर चौकी इंचार्ज विनय शुक्ल ने बताया कि नीलगाय पकड़वाने के लिए वन विभाग के रेंजर को सूचना दे दी गई है। मगर देर शाम तक मौके पर पुलिस के सिवा कोई वन विभाग का कर्मचारी नहीं पहुंचा था।

Leave a Comment