Health Tips: Giloy Benefits And Side Effects Giloy Khane Ke Fayde Aur Nuksan In Hindi – Health Tips: इम्यूनिटी बढ़ाने में गिलोय लाभकारी, लेकिन अधिक सेवन से रहता है इन बीमारियों का खतरा

Giloy Benefits And Side Effects: कोविड काल में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए घरेलू औषधि के रूप में गिलोय का उपयोग बढ़ा। लोगों ने कोरोना संक्रमण के खतरे से बचने के लिए गिलोय के काढ़े का सेवन करना शुरू किया। बड़े बुजुर्गों और पेड़ पौधों का समझ रहने के अलावा बहुत से लोग ऐसे थे जिन्हें इसके पहले गिलोय जैसे पौधे में पाए जाने वाले औषधीय गुणों के बारे में पता ही नहीं था। गिलोय एक प्रसिद्ध और लाभकारी जड़ी है, जो समीपवर्ती पेड़ों पर चढ़कर फैलती है। इसका जायका कड़वा होता है। वहीं नीम के पेड़ पर चढ़ी हुई गिलोय में औषधीय गुण अधिक होते हैं। ज्वर में यह रामबाण का काम करती है। गिलोय के सेवन से कई तरह के स्वास्थ्य लाभ होते हैं। जिसकी जानकारी होने पर लोगों ने जरूरत से ज्यादा गिलोय का सेवन शुरू कर दिया। बाद में इस तरह के अध्ययन रिपोर्ट सामने आए कि अधिक गिलोय का सेवन भी नुकसानदायक है। गिलोय का अधिक सेवन कई रोगों की वजह बन सकता है। चलिए जानते हैं गिलोय के फायदे और नुकसान।

गिलोय में पोषक तत्व

गिलोय में कई पोषक तत्व पाए जाते हैं। गिलोय मेंं गिलोइन, टीनोस्पोरिन, टीनोस्पोरिक एसिड, आयरन, पामेरियन, फास्फोरस, कॉपर, कैल्शियम और जिंक आदि पोषक शामिल है।

गिलोय के सेवन के फायदे

डायबिटीज

गिलोय टाइप 2 डायबिटीज को नियंत्रित करने में असरदार है। गिलोय का जूस पीने से बढ़े हुए ब्लड शुगर के स्तर को कम किया जा सकता है। गिलोय इंसुलिन रेजिस्टेंस को कम करता है। ऐसे में गिलोय का जूस डायबिटीज मरीजों के लिए लाभकारी है।

डेंगू

जब डेंगू फैलता है तो बचाव में आप घरेलू उपाय के तौर पर गिलोय का सेवन कर सकते हैं। डेंगू होने पर मरीज को तेज बुखार हो जाता है। गिलोय में एंटीपायरेटिक गुण होते हैं, जो बुखार को जल्द ठीक करने में मदद करते हैं और इम्युनिटी बूस्टर की तरह काम करते हैं।

रक्त विकार

गिलोय का काढ़ा पीने से फोड़े-फुंसी, रक्त विकार और अनेक तरह के चर्म रोग दूर हो सकते हैं। इसके अलावा गिलोय का सेवन त्वचा संबंधी रोगों और एलर्जी से बचाव करता है। त्वचा पर चकत्ते, कील मुंहासे होने पर गिलोय का उपयोग करें।

इम्यूनिटी

बीमारियों से बचाव के लिए शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होना जरूरी है। इसके लिए गिलोय असरदार है। गिलोय के जूस के नियमित सेवन से इम्यूनिटी बढ़ती है, जिससे सर्दी जुकाम समेत संक्रामक बीमारियों के जोखिम से बचाव होता है।

 

गिलोय के सेवन के नुकसान

निम्न रक्त चाप

गिलोय का अधिक सेवन करने से ब्लड प्रेशर लो हो सकता है। ऐसे में जिन मरीजों को निम्न रक्तचाप की शिकायत है, उन्हें गिलोय के सेवन से परहेज करना चाहिए।

गर्भावस्था

गर्भवती के लिए गिलोय का सेवन नुकसानदायक हो सकता है। गर्भावस्था में या स्तनपान कराने वाली महिलाओं को गिलोय के सेवन से बचना चाहिए।

Leave a Comment