Students Will Now Wear Indian Attire In The Convocation Ceremony In Peck, Will Get Approval In The Senate Today – पेक में अब दीक्षांत समारोह में छात्र पहनेंगे भारतीय पहरावा, आज सीनेट में मिलेगी मंजूरी

ख़बर सुनें

चंडीगढ़। पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज में दीक्षांत समारोह में अब दक्षिणी पहरावा देखने को नहीं मिलेगा। पेक आगामी दीक्षांत समारोह से छात्रों के लिए ड्रेस कोड बदलने की तैयारी कर रहा है। पेक के छात्र अब दीक्षांत समारोह में भारतीय पहरावे में नजर आएंगे। इस फैसले को सोमवार को होने वाली पेक सीनेट बैठक में मंजूरी दी जाएगी। हालांकि इसे लेकर यूजीसी काफी पहले नोटिस जारी कर चुकी है।
पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज ने ड्रेस कोड को लेकर पहले ही कमेटी गठित कर दी है। कमेटी ने जल्द होने वाले दीक्षांत समारोह के लिए भारतीय पहरावे का प्रस्ताव दिया है। सीनेट की बैठक में आगामी दीक्षांत समारोह की तैयारियों से जुड़े भी कुछ फैसले लिए जाएंगे। सीनेट की मंजूरी के बाद, प्रस्ताव अंतिम मंजूरी के लिए बोर्ड ऑफ गवर्र्नेंस के पास जाएगा। अगर बीओजी से मंजूरी मिल जाती है तो पेक चंडीगढ़ का पहला शिक्षण संस्थान होगा जिसने दीक्षांत समारोह में भारतीय पहरावे को मंजूरी दी होगी।
पेक में अब एमटेक टॉपर को देगा गोल्ड मेडल
पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज अब एमटेक/मास्टर डिग्री कोर्स के टॉपर छात्रों बेहतरीन प्रदर्शन और टॉपर्स को गोल्ड मेडल देने की तैयारी कर रहा है। पेक में कुल 12 संकायों में एमटेक करवाई जाती है जिनके टॉप रैंक होल्डर को गोल्ड मेडल के साथ सम्मानित किया जाएगा। इस पर सीनेट बैठक में मंजूरी दी जाएगी। इससे पहले तक सिर्फ बीटेक के टॉपर्स को ही मेडल दिए जाते थे। आगामी दीक्षांत समारोह में 800 यूजी-पीजी और पीएचडी उम्मीदवारों को डिग्री भेंट करने की तैयारी चल रही है।

चंडीगढ़। पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज में दीक्षांत समारोह में अब दक्षिणी पहरावा देखने को नहीं मिलेगा। पेक आगामी दीक्षांत समारोह से छात्रों के लिए ड्रेस कोड बदलने की तैयारी कर रहा है। पेक के छात्र अब दीक्षांत समारोह में भारतीय पहरावे में नजर आएंगे। इस फैसले को सोमवार को होने वाली पेक सीनेट बैठक में मंजूरी दी जाएगी। हालांकि इसे लेकर यूजीसी काफी पहले नोटिस जारी कर चुकी है।

पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज ने ड्रेस कोड को लेकर पहले ही कमेटी गठित कर दी है। कमेटी ने जल्द होने वाले दीक्षांत समारोह के लिए भारतीय पहरावे का प्रस्ताव दिया है। सीनेट की बैठक में आगामी दीक्षांत समारोह की तैयारियों से जुड़े भी कुछ फैसले लिए जाएंगे। सीनेट की मंजूरी के बाद, प्रस्ताव अंतिम मंजूरी के लिए बोर्ड ऑफ गवर्र्नेंस के पास जाएगा। अगर बीओजी से मंजूरी मिल जाती है तो पेक चंडीगढ़ का पहला शिक्षण संस्थान होगा जिसने दीक्षांत समारोह में भारतीय पहरावे को मंजूरी दी होगी।

पेक में अब एमटेक टॉपर को देगा गोल्ड मेडल

पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज अब एमटेक/मास्टर डिग्री कोर्स के टॉपर छात्रों बेहतरीन प्रदर्शन और टॉपर्स को गोल्ड मेडल देने की तैयारी कर रहा है। पेक में कुल 12 संकायों में एमटेक करवाई जाती है जिनके टॉप रैंक होल्डर को गोल्ड मेडल के साथ सम्मानित किया जाएगा। इस पर सीनेट बैठक में मंजूरी दी जाएगी। इससे पहले तक सिर्फ बीटेक के टॉपर्स को ही मेडल दिए जाते थे। आगामी दीक्षांत समारोह में 800 यूजी-पीजी और पीएचडी उम्मीदवारों को डिग्री भेंट करने की तैयारी चल रही है।

Leave a Comment